सामाजिक व धार्मिक सुधार आन्दोलन |

सामाजिक व धार्मिक सुधार आन्दोलन |

ब्रह्म समाज

राजा राममोहन राय ने 1828 ई. में ब्रह्म समाज की स्थापना की। इस समाज ने सती प्रथा, बहुविवाह, जातिवाद, अस्पृश्यता का विरोध किया। राजा राममोहन राय के बाद देवेन्द्रनाथ टैगोर और केशवचन्द्र सेन ने ब्रह्म राम समाज का नेतृत्व किया।

प्रार्थना समाज

1867 ई. में बम्बई में केशवचन्द्र सेन के मार्गदर्शन में आत्माराम पाण्डुरंग द्वारा प्रार्थना समाज की स्थापना की गई। रानाडे और भण्डारकर इसके प्रमुख सदस्य थे।

आर्य समाज

आर्य समाज की स्थापना दयानन्द सरस्वती (मूल शंकर) ने 1875 ई. में बम्बई में की।

बाद में आर्य समाज का मुख्यालय लाहौर में बना।

दयानन्द सरस्वती ने सत्यार्थ प्रकाश की रचना की।

रामकृष्ण मिशन

रामकृष्ण मिशन (1897 ई.) की स्थापना रामकृष्ण परमहंस के शिष्य स्वामी विवेकानन्द (नरेन्द्रनाथ) ने की। स्वामी विवेकानन्द ने 1894 ई. में न्यूयॉर्क में वेदान्त सोसायटी का गठन किया।

थियोसोफिकल सोसायटी

इसकी स्थापना 1875 ई. में मैडम ब्लावात्सकी एवं कर्नल अल्काट ने न्यूयॉर्क (यू एस ए) में की थी।

1882 ई. में इसका अन्तर्राष्ट्रीय कार्यालय मद्रास के मु निकट अड्यार में स्थापित हुआ। 1893 ई. में ऐनी बेसेन्ट भारत आई और थियोसोफिकल आन्दोलन का नेतृत्व सम्भाला।

अलीगढ़ आन्दोलन

सैयद अहमद खान ने इस आन्दोलन का नेतृत्व किया। 1875 ई. में उन्होंने आंग्ल-मुस्लिम स्कूल की स्थापना अलीगढ़ में की। यह 1920 ई. में अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय बना।

यंग – बंगाल आन्दोलन

इसकी स्थापना बंगाल में 1828 ई. में हेनरी विवियन डेरोजियो नामक एंग्लो इण्डियन ने की।

डेरोजियो ने एकेडेमिक एसोसिएशन एवं सोसायटी फॉर द एक्वीजिशन ऑफ जनरल नॉलेज की स्थापना की। .

अहमदिया आन्दोलन

• इसका नेतृत्व मिर्जा गुलाम अहमद ने 1889 ई. में किया। इसका उद्देश्य इस्लाम के सच्चे स्वरूप को स्थापित करना था।

इन्होंने अपनी पुस्तक बराहीन-ए-अहमदिया में अपने सिद्धान्तों की व्याख्या की।

One Comment on “सामाजिक व धार्मिक सुधार आन्दोलन |”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *